• 22 NOV 16
    कैसे करें अपने सही सरदर्द की पहचान ?

    सिरदर्द कई कारणों से होता है परंतु इसका उपचार तभी संभव है जब हमें इसकी श्रेणी यानी किस्म पता हो । आपका सिर दर्द किस किस्म का है आइए जानें ।

    तनाव से होने वली सिरदर्द आपके सिर के पिछले हिस्से या गर्दन के ऊपरी हिस्से से शुरू होता है । ऐसा लगता है जैसे दबाव का कोई बैंड हो जैसे कि बहुत कसकर डोर बांधने से होता है और वह कसाव जैसा दर्द आपको भौंहों के ऊपर भी महसूस होता है । यह दर्द हल्का होता है और सिर के दोनों और असर करता है । इससे जूझने के बावजूद भी आप अपना काम करते रह सकते हैं ।

    जाने- सिरदर्द क्या है ओर ये क्यूँ होता है ?

    माइग्रेन लंबी बीमारी है । इसका हमला कुछ-कुछ समय बाद होता रहता है । तनाव से उपजे सिरदर्द के विपरीत यह सिर के एक ही तरफ़ होता है । हालांकि कभी-कभी यह माथे पर, आंखों के आसपास या सिर के पीछे भी हो सकता है । इसके अलावा एक तिहाई मामलों में माइग्रेन सिर के दोनों और हो सकता है । सिर के एक तरफ़ होने वाला दर्द अगली बार सिर के दूसरी तरफ खिसक जाता है ।

    यह बहुत ही प्रचंड व टीसे मारने वाला दर्द होता है । यह दैनिक जीवन की सामान्य क्रियाओं से और बढ़ जाता है जैसे पैदल चलना । माइग्रेन से उबकाई, उल्टी, दस्त हाथ-पैर ठंडे होना और रोशनी व आवाज के प्रति संवेदनशीलता बढना जैसी समस्याएं हो जाती हैं । माइग्रेन का एक अटैक 4 से 72 घंटों तक रह सकता है । इसमें मरीज एक अंधेरे कमरे में चुपचाप पड़े रहने के अलावा कुछ काम नहीं कर सकता ।

    जाने- क्या हो सकते सरदर्द होने के कारण ?

    संपर्क करें निशुल्क चिकित्सा परामर्श सरदर्द अनिद्रा माईग्रेन

    लगभग आधे माइग्रेन मरीजों को अटैक आने से कुछ घंटों या दिनों पहले लक्षणों के रूप में चेतावनी मिल जाती है । जैसे नींद लगी रहना, चिड़चिड़ापन, थकान, अवसाद यहाँ तक कि नमकीन खाद्य पदार्थों की इच्छा बढ जाती है । माइग्रेन के 20 प्रतिशत मरीज सिर पर कुछ आभा सी महसूस करते हैं | जैसे आड़े-तिरछे ढंग से तेज रोशनियों प्रकट होना, अपनी दृष्टि में छेद देखना, जिस तरफ भी दर्द है उधर बाजुओं में, मुंह में, नाक में सुई सी चुभन अनुभव करना । कुछ लोगों को अजीबो-गरीब आवाजें सुनाई देती हैं और उनको अजब से स्वाद एवं सुगंध आने लगती हैं ।

    जाने- क्या माइग्रेन ले सकता है सरदर्द का भयंकर रूप ?

    क्लस्टर सिरदर्द समूह में आता है और कई हफ्तों या महीनों तक चलता है । इन क्लस्टर्स के दौरान दिन में एक या दो बार आधे या डेढ घंटे के लिए दर्द होता है । हो सकता है कि यह मर्ज आपको अचानक नीद से जगा है और आप बहुत ही ज्यादा दर्द महसूस करें । आमतौर पर यह दर्द एक ही आँख के आसपास होता है ।

    इसकी शिकार आँख लाल हो सकती है, उसमें पानी आ जाता है और उस तरफ की नाक बंद हो जाती या बहने लगती है । क्लस्टर सिरदर्द इतने दर्दनाक होते हैं कि मरीज बेचैन हो जाता है । वह इधर-उधर, उपर-नीचे घूमने लगता है या कभी अपना सिर दीवार से टकराने लगता है ।

    जाने- क्या साइनस भी दे सकता है सरदर्द ?

    संपर्क करें निशुल्क चिकित्सा परामर्श तनाव खर्राटे नजला

    सरदर्द का उपचार

    ⁠⁠⁠गौ नस्य

    मुख्य लक्षण– सिर में दर्द होना | यह स्वतंत्र व्याधि भी है ओर कुछ व्याधियों का लक्षण मात्र भी |

    मुख्य दोष– वात, पित्त, कफ

    प्रभावित संस्थान– वातनाड़ी संस्थान

    गौमूत्र की उपयोगिता– गौमूत्र मेधी है, इसलिए मस्तिष्कीय ज्ञान-तंतुओं को शक्ति देता है | दीपन ओर पाचन होने के कारण शरीर को बनाए रखता है | पित्त, तिक्त व उष्ण होने के कारण लाभ करके नाड़ी संस्थान तो ताक़त देने से सरदर्द को मिटाता है | नित्य गौमूत्र पीने से स्थाई रूप से सरदर्द नष्ट हो जाता है |

    गौ-नस्य की उपयोगिता– देशी गाय के दूध के कण अत्यंत सूक्ष्म होने के कारण उसके घी से बना गौ-नस्य मस्तिष्क के अतिसूक्ष्म नाड़ीयों में जाकर अवरोध को दूर कर सरदर्द को मूल सहित उखाड़ फेंकता है |

    [elfsight_popup id="2"]My content[elfsight_popup id="2"]
    Leave a reply →

Leave a reply

Cancel reply
[elfsight_popup id="2"]My content[elfsight_popup id="2"]