• 15 APR 18
    अब गव्यशाला आपसे ख़रीदेगी 100000 रुपया मासिक के उत्पाद, बस बनाओ ओर देते जाओ !
    गव्यरक्षक बनें ओर कमाएं रुपया 2500/- से 100000/- मासिक

    गव्यशाला ने निर्णय लिया है की अब वह स्वयं गौभक्तों से उत्पाद खरीद कर लेगी… आप जितना चाहे मासिक उत्पाद बनाकर गव्यशाला को दे सकते है | आपको कुछ नही करना है केवल घर बैठकर अर्कयंत्र चालू कीजिए…. ओर प्रतिदिन का 8 लीटर गौमूत्र 300 रुपये लीटर के हिसाब से हमें भेज दें ओर तुरंत कैश अपने अकाउंट मे पाएँ…. बोले तो प्रतिदिन 2400 रुपये ओर 72000 रुपया प्रतिमाह… घर बैठे…?? वो भी केवल गौमूत्र से..??

    अमूल माचो… बड़े आराम से…??? 🙂 🙂 🙂

    आख़िर यही चाहते है ना आप…??

    मेरे पास प्रतिदिन लगभग 50 फोन ऐसे लोगो के फोन आते है जो कहते है भाई हम आपसे मास्टर डिप्लोमा इन पंचगव्य का प्रशिक्षण ले लेंगे… 8-10 गाय रख लेंगे… उत्पाद बना लेंगे… ओर आपको बनाकर दे देंगे… बस आप हमारे उत्पाद खरीद लें  या कोई अन्य कंपनी आप बता दें जो हमसे घर बैठ कर उत्पाद खरीद ले…

    विशेष बात यह है की ये लोग मेरी पुस्तक देशी गाय से एक लाख रुपया महीना कमाने के 9 सूत्र पढ़ने के पश्चात मुझसे बात करते है | अब ऐसी परिस्थिति में सच पूछो तो मेरा मन करता है की फोन से निकल कर ही 2 झापड़ रसीद कर दूं…

    Next Panchgavya Workshop

    कारण…??

    जब पुस्तक में लिखा है की 1 गाय से ही प्रतिमाह 1 लाख के उत्पाद बन सकते है तो आपको कहा किसने है कि

    1) आप 8-10 गाय खरीदें…
    2) फिर 10 लाख के उत्पाद बनाएँ ओर फिर उन्हे बेचने के लिए बड़ी-बड़ी कंपनीयों की चोखट रगड़ें…??
    3) आख़िर वो कौन सा कारण है जो आपको 10 लाख रुपया महीना कमाने के लिए बाध्य कर रहा है…??
    4) क्या आप आज की परिस्थिति में 10 लाख रुपया मासिक कमा रहे है..??
    5) क्या आपकी मासिक आवश्यकताएँ इतनी है..??

    सच कहूँ… तो ये मानसिकता ही गौ हत्यारी है…

    क्या कहा….

    कैसे…?? तो आओ जाने….

    आज भारत मे युवाओं को अधिकतम 500 रुपया प्रतिदिन की मज़दूरी पूरा दिन एडीयाँ घिसने के पश्चात प्राप्त होती है… ओर ये वो राशि है जो मिलती है… ओर इसमें से बचती कितनी है वो तो आप सभी जानते ही है… 🙂 क्योंकि विषय मिलने का नही बचने का होता है….

    मेरा एक भाई बंगलोर में बड़ी कंपनी की नौकरी करके 150000 प्रतिमाह प्राप्त करता है… पर अंत मे बचता कितना है…?? केवल 20000… 🙂 🙂 अब मैं उसे कहता हूँ की भाई यही जयपुर आजा… इतने तो यही बचा लेंगे… पर वो यहाँ आने से पहले 200000 रुपया मासिक देने वाली नौकरी ढूंढता है…. जबकि सत्य यह है की यदि यहाँ उसे 75000 रुपया भी मिल जाए तो भी वह 20000 से अधिक बचा लेगा 🙂

    इस देश के युवाओं की हालत भी कुछ ऐसी ही है… दिल्ली… बंबई… मे पूरा दिन खटकर 5000 बचाएंगे… पर घर के खेत पर गाय पालकर उन्हे 1000000 रुपया मासिक चाहिए…. क्या मानसिक दिवालियापन है यह…?? आख़िर इतना लालच कहाँ से आया इन गधों में…?? विचार करने योग्य बात है |

    अबे गधों…. आख़िर चाहिए क्यों तुम्हे 10 लाख रुपया मासिक…??

    बस आपकी यही सोच गौ हत्यारी है….

    3 प्रकार के पंचगव्य प्रशिक्षण शिविर बोलने से पहले लोग यह विचार नही करते है की यदि कोई बड़ी कंपनी उनके उत्पाद ख़रीदेगी तो क्या उन्हे वह अर्क के 300 रुपया देगी…?? अरे मूर्खो… एक बहुत बड़े बाबाजी को अर्क देने के लिए लोग 40 रुपया प्रतिलीटर मे तरस रहे है… लाइन लगी है देने वालो की… अनेक उत्पाद बड़ी-२ कंपनिया आपके जैसे मूर्खो से कोडियों से भाव लेकर बेच रही है…. शोषण हो रहा है आपका… आपका माल कोडियों के भाव लेकर आपके ही पड़ोसी को बेचा जा रहा है… गव्यशाला को उत्पाद बेचकर क्यो अपना ओर शोषण करवाना चाहते हो… अभी क्या कम लूटे हो मूर्खों….

    मेरे पास अनेक छात्र पंचगव्य प्रशिक्षण लेने आते है… बहुत से ऐसे होते है जिनके पास गाय भी नही होती… तो मैने उन्हे बताता हूँ की बिना गाय के कैसे कमाएँ 50000 रुपया महीना ? यदि उनके पास पैसा नही है तो मैने उनके लिए विभिन्न योजनाएँ भी बनता हूँ जैसे अभी कुछ दिन पहले बनाई- गौसेवकों के लिए 30000 से 100000 रुपया नकद पाने का सुनहरा अवसर मैं उन्हे निशुल्क मेरे यूट्यूब चैनल पर वीडियो बनाकर देता हो… वेबसाइट पर डालता हूँ… पुस्तक बनाकर देता हूँ… ओर इसका मैं किसी से कुछ लेता नही… फूटी कौड़ी भी नही…

    पर ये युवा इतने आलसी है की कुछ करना ही नही चाहते…. 🙁 🙁

    हे मेरे देश के युवाओं….मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ… आप यदि अपने आस-पास 10 रोगी भी देख लोगे तो आप 10000 रुपया मासिक बचा लोगे… रोगी कैसे आएँगे ? वो भी आपको मैं बताउँगा… घर बैठे… अपने खेत पर…  वो भी गौ सेवा के साथ… अपनी निद्रा से उठो… अपना लालच त्यागो… अपनी इंद्रियों को नियंत्रण मे करके हुंकार भरो… अब लूटने का समय पूरा हुआ… भारत की उसी विकेंद्रित व्यवस्था प्रणाली को वापस लाना है जिसमें गाँव मे चीज़ बनकर वही खप जाती थी… आपको उसी मार्ग पर जाना है |

    ओर ये मत सोचना की मैं केवल बोल रहा हूँ… जो मैं बोलता हूँ वो मैं करता हूँ… मेरी आज तक उत्पाद बेचने की कोई दुकान नही है… ना मैने आज तक मेरे उत्पाद किसी को खरीदने को ही कहा है ओर ना मैने इसका अभी तक कोई प्रचार किया है… फिर भी मैं घर बैठे उत्पाद बेच देता हूँ….. ओर ना केवल मैं ऐसा कर रहा हूँ बल्कि मेरे यहा सीखने वाले छात्र भी यह सरलता से कर लेते है…. आओ देखें एक ऐसे ही छात्र की कहानी

    तो देखो… ये हरियाणा के पंडित जी है…. जब 6 माह पहले मेरे पास आए थे तो इनके विचार सुनो….

    सुना…. क्या समझ आया…??

    अब इनके 5 दिवस पहले के विचार सुनो….

    सुना… कुछ समझ आया की नाही बुडबक….??

    गाय से 50000 रुपया कमाना संभव है… तुम नही तो कोई दूसरा कमाएगा… अपन को क्या…??

    पर यदि तुम भी ऐसा ही करना चाहते हो… तो आओ मेरे पास…

    पर कहाँ…??

    अरे भाई इहा…इधर…….https://goo.gl/swjdhs

    I AM BHAITING……

    मनीष भाई एक गौसेवक है | आपका एक ही लक्ष्य है, गौ सेवा के माध्यम से मानव सेवा… गौमाता के संरक्षण के लिए आपके कई प्रकल्प (जैसे- मेरी माँ) जयपुर में चल रहे है ओर अब ये स्वयं पंचगव्य चिकित्सा प्रशिक्षण देते है |

    अब पाएँ निशुल्क गव्यशाला समाचार

    अपना ई-मेल रजिस्टर करें ओर पाएँ जब भी हम नया समाचार डालें

    I will never give away, trade or sell your email address. You can unsubscribe at any time.

    Leave a reply →
  • Posted by Ranveer Sharma on April 15, 2018, 1:46 pm

    कृपा करके आप मुझे भी प्रक्षिशण देवें

    Reply →
    • Posted by मनीष शर्मा on April 16, 2018, 10:48 pm
      in reply to Ranveer Sharma

      जी अवश्य, कृपया आप 9928087811 पर संपर्क करें !

      Reply →
  • Posted by poonam shankar shivnani on April 15, 2018, 12:37 pm

    Nice opportunity … I will surely look forward and wish to earn maximum. First I will have to find out Desi Gau Maa and then they must permit me to take that.
    Regards,
    Poonam.

    Reply →
  • Posted by poonam shankar shivnani on April 15, 2018, 12:37 pm

    Nice opportunity … I will surely look forward and wish to earn maximum. First I will have to find out Desi Gau Maa and then they must permit me to take that.
    Regards,
    Poonam.

    Reply →

Leave a reply

Cancel reply
मनीष भाई एक गौसेवक है | आपका एक ही लक्ष्य है, गौ सेवा के माध्यम से मानव सेवा… गौमाता के संरक्षण के लिए आपके कई प्रकल्प (जैसे- मेरी माँ) जयपुर में चल रहे है ओर अब ये स्वयं पंचगव्य चिकित्सा प्रशिक्षण देते है |

अब पाएँ निशुल्क गव्यशाला समाचार

अपना ई-मेल रजिस्टर करें ओर पाएँ जब भी हम नया समाचार डालें

I will never give away, trade or sell your email address. You can unsubscribe at any time.