गव्यरक्षक बनें ओर कमाएं रुपया 2500/- से 100000/- मासिक
    • 30 MAR 18
    गौसेवकों के लिए 30000 से 100000 रुपया नकद पाने का सुनहरा अवसर
    गव्यरक्षक बनें ओर कमाएं रुपया 2500/- से 100000/- मासिक

    #1_लाख_नकद #गौसेवा #रोज़गार #प्रशिक्षण #गव्यशाला

    मोदी जी एक आइडिया मुझे बहुत अच्छा लगा… विश्व के सभी आयोजन इंद्रप्रस्थ में ही क्यो हो…?? क्या हम यह आयोजन काशी, आगरा, जयपुर आदि स्थानो पर नही बुला सकते…?? कितना अच्छा हो अन्य देशो के राष्ट्राध्यक्ष यहाँ आए… पर्यटन के नए अवसर खुले… स्थानीय जन को रोज़गार मिले….

    3 प्रकार के पंचगव्य प्रशिक्षण शिविर दूसरा आज भारत का समाज बहुत लालची हो चुका है…धर्म कार्य हो या गौसेवा व्यक्ति पहले दूसरे की थाली मे झाँकता है बहुत समय से देख रहा हमारे मठ, मंदिर, आश्रम, गौशलाए भी इससे अधूरी नही रही | अनेक गौशालाओं मे हमने देखा की संस्था की आंतरिक राजनीति इतनी ख़तरनाक है की गौशालाओं का आत्मनिर्भर होना तो दूर बल्कि अस्तित्व ही संकट में है… अनेक गौशालाओं मे मुझे यह अनुभव हुए है की आपसी रंजिश ओर अहंकार के चलते व्यक्ति धर्म ओर गाय पर कुठाराघात करने से भी नही चूकता….अभी 3 दिन पहले हिंगोनिया गौशाला में भारतभर से प्रबुद्ध गौसेवक पधारे…गोष्ठी हुई… पर उससे मुझे बहुत निराशा हाथ लगी… इस विषय पर अलग से कभी लिखूंगा….

    बहुत समय से मेरा प्रयास था की यह पंचगव्य प्रशिक्षण, उत्पाद निर्माण, वितरण, चिकित्सा आदि योजनाएं हर गौशाला मे किस प्रकार लागू की जा सकती है… ?? इस पर बहुत समय तक सोचा… कल योजना बनाई…

    यदि मोदी भिन्न-२ नगरों में जा कर आयोजन कर सकते है, ओर स्थानीय लोगो को रोज़गार दे सकते है तो हम क्यो नही…?? निर्णय हुआ… गव्यशाला अब भारत भर की गौशालाओं, कृषकों, नगरों में जाकर पंचगव्य प्रशिक्षण देंगी…

    Next Panchgavya Workshop

    अब गौशाला यदि प्रशिक्षण के लिए हमें बुलाएगी तो उसका क्या लाभ…. वह जानना आवश्यक है…

    १) गौशाला को निशुल्क उत्पाद निर्माण प्रशिक्षण मिलेगा |
    २) निर्माण, वितरण, पैकिंग, चिकित्सा आदि से संबंधित जानकारी निशुल्क मिलेगी |
    ३) निशुल्क चिकित्सा परामर्श शिविर के माध्यम से ग्रामवासियों में गाय के प्रति जागरूकता आएगी |
    ४) आस-पास के प्रशिक्षण लेने वाले युवा गौशाला से जुड़ेंगे, अपने ग्राम मे चिकित्सा के लिए गौशाला से उत्पाद ख़रीदेंगे |

    देशी गाय से 1 लाख रुपया महीना कमाने के 9 सूत्रधर्मस्य मूलम: अर्थम् के आधार पर अब एक विशेष लाभ… जिस भी गौशाला में यह प्रशिक्षण आयोजित होगा, गव्यशाला की ओर से उसे 50% राशि गौसेवा के लिए दान की जाएगी | इस राशि का उपयोग यदि गौशाला चाहे तो पंचगव्य उत्पाद निर्माण के लिए कर आय का एक ने स्रोत बना कर स्वावलंबी बन सकती है |साधारण रूप मे देखें तो 30000 से 100000 तक का नकद लाभ, 51000 तक के उत्पाद निर्माण, निशुल्क प्रशिक्षण, भविष्य के लिए असीमित संभावनाएं…

     

    इस योजना तैयार करवाने में भाई योगेंद्र कृष्ण का भी बड़ा हाथ है | इनके सहयोग के बिना यहां तक पहुंचना असंभव था |

    बहुत समय से युवा, कृषक, गौशलाएँ, गौपालक कहते थे की भाई हमारे पास पैसे नही है तो प्रशिक्षण कैसे लें… यह योजना इन सभी के लिए भी लागू रहेगी… अब गव्यशाला आपके लिए निशुल्क प्रशिक्षण ही नही… बल्कि नकद धनराशि, चिकित्सा शिविर, वितरण आदि के ग़ूढ ज्ञान आपके नगर में आकर देगी…

    प्रचार करने के लिए डिज़ाइन आदि मे गव्यशाला का पूर्ण सहयोग रहेगा…

    चमत्कार, गौमाता से 50000 रुपया प्रतिमाह कमाता है ये लड़का

    तो आओ… अब तो गाय से पैसा कमाना सींखे…

    यदि अन्य कोई सुझाव हो तो नीचे कॉमेंट करें…

    Leave a reply →
  • Posted by Amit kumar on April 23, 2018, 7:06 pm

    I want training but have no money am am educated unemployed please guide me

    Reply →
  • Posted by Vidyadhar jintikar on April 17, 2018, 1:51 pm

    जय गोमाता. प्रणाम सर. मै महाराष्ट्र पुणे शहरमे रहता हूँ। मेरा व्हाट्सअप नंबर है 9096878820 . आपसे प्रार्थना और निवेदन है की आप गोमातासे याने पंचगव्य से जो भी दवाइया बनाते हो और भी गव्यशालासे संबंधित वार्ता मुझे जरुर भेजिएगा ।

    Reply →
  • Posted by p s swami on April 1, 2018, 5:10 pm

    Please call me I want Traning center in my Goshalala MO 8805388801

    Reply →
  • Posted by Ajay kumar on April 1, 2018, 3:44 pm

    मैं निशुल्क प्रशिक्षण लेना चाहता हूँ ओर मैं नाड़ी विज्ञान भी सीखना चाहता हूँ। मुझे क्या करना होगा।

    Reply →
    • Posted by मनीष शर्मा on April 1, 2018, 10:53 pm
      in reply to Ajay kumar

      जी, कृपया आप 9928087811 पर संपर्क करें |

      Reply →
  • Posted by Vijay on April 1, 2018, 11:38 am

    Please send me details how to earn 30000- 100000 rupees through cow

    Reply →

Leave a reply

Cancel reply