क्या है मास्टर डिप्लोमा इन पंचगव्य ?

आज बहुत से लोगो का प्रश्न है की ये पंचगव्य में मास्टर डिप्लोमा क्या होता है, इसका बड़ा सरल सा उत्तर है भारत सरकार के उपक्रम भारत सेवक समाज की ओर से पंचगव्य चिकित्सा में वैकल्पिक चिकित्सा पद्द्ति के अंतर्गत आरंभ किया गया पाठ्यक्रम जिसका लक्ष्य है भारत मे गौमाता का संरक्षण, संवर्धन एवम् वैज्ञानिक शोध को बढ़ावा देना | अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

यह भी जाने- क्यो करें पंचगव्य डिप्लोमा ?

पंचगव्य पाठ्यक्रम मे गौमाता से प्राप्त गव्यो से लगभग 80 प्रकार की औषधियों का निर्माण एवम् चिकित्सा सिखाई जाती है, जिसमें नाड़ी विज्ञान एवम् मानव शरीर संरचना अंतर्भूत है | इसी के साथ इसमें गौशाला प्रबंधन, निर्माण एवम् गौमाता की चिकित्सा को भी जोड़ा गया है | सरल शब्दों मे कहा जाए तो गौमाता की सेवा के साथ चिकित्सक बनकर निर्वहन…

यह भी जाने- कब आरंभ होगा मास्टर डिप्लोमा इन पंचगव्य थेरेपी का आगामी सत्र

अब आप सोच रहे होंगे की इस पाठ्यक्रम को करने के क्या लाभ है..? तो आप यह जान लें की इस पाठ्यक्रम को पूर्ण करने के पश्चात आप पंचगव्य चिकित्सक बनकर गौमाता के गव्यो से विभिन्न प्रकार की औषधियों का निर्माण एवम् चिकित्सा कर अपने ग्राम एवम् भूमि पर ही अपना जीवनयापन कर सकते है |

यह भी जाने- पंचगव्य पाठ्यक्रम में पढ़ाए जाने वाले विषय

जीवनयापन का अर्थ किसी की दया पर नही… बल्कि समाज मे सम्मानपूर्वक पंचगव्य चिकित्सक के रूप मे जीवन का निर्वहन | निर्वहन इस प्रकार का जिससे आपमे प्रतिमाह 25000 से 200000 रुपया कमाने का सामर्थ्य प्राप्त होगा | निर्वहन ऐसा जो अंतराष्ट्रीय कंपनियों की भाँति झूंठ, छल ओर कपट पर नही बल्कि सत्य पर आधारित होगा | ऐसा निर्वहन जिससे आपके मन को शांति प्राप्त होगी | निर्वहन ऐसा जिससे आपको गौसेवा का पुण्य प्राप्त होगा | ऐसा निर्वहन जिससे आप आपको अपने ग्राम से विस्थापित नही होना पड़ेगा अपितु आप अपने माता-पिता की सेवा अपने स्थान पर रहकर ही कर पाएँगे | ऐसा निर्वहन जिससे आप एलोपेथ के माध्यम से खरबों रुपये के रूप मे बाहर जाती मुद्रा को रोक सकेंगे, मुद्रा का अवमूल्यन रुकेगा, मूल्य बढ़ेगा… जब मूल्य बढ़ेगा तो भारत आगे बढ़ेगा…. ओर जब भारत बढ़ेगा तो ही हम पुन: सोने की चिड़िया या कहें विश्वगुरु बनने की ओर अग्रसर हो सकेंगे |

यह भी जाने- पंचगव्य पाठ्यक्रम में पंजीकरण के लिए नामांकन फॉर्म

तो आपने देखा… ऐसा है मास्टर डिप्लोमा इन पंचगव्य चिकित्सा का पाठ्यक्रम… यदि आपके मन मे इस पाठ्यक्रम से संबंधित कुछ प्रश्न रह गए हो तो आप संपर्क पेज पर जाकर फॉर्म भर सकते है | हम आपसे शीध्र संपर्क करेंगे |

3 प्रकार के पंचगव्य प्रशिक्षण शिविर

देशी गाय से 1 लाख रुपया महीना कमाने के 9 सूत्र

अर्कयंत्र खरीदें

Grass Fed Cow Ghee

प्राकृतिक एवम् पॅंचगव्य चिकित्सा

गौ-नस्य

निशुल्क चिकित्सा

गव्यशाला

गौ आधारित वैदिक पंचगव्य गुरुकुल एवम् चिकित्सा केंद्र

गव्यशाला... एक ऐसा स्थान जहाँ आप सीखेंगे पंचगव्य के माध्यम से शरीर का रोग निदान एवम् उत्पाद निर्माण...

गव्यशाला
विधाधर नगर
जयपुर
राजस्थान- 302023 भारत